Wednesday 22 May 2024 1:53 PM
Aman Patrika
बिहार/ब्रेकिंग न्यूज

विश्व उद्यमिता दिवस पर सीनेट हॉल में एनएसएस द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बोले कुलपति, बिजनेस का मूल मंत्र है विश्वास।

विश्व उद्यमिता दिवस पर सीनेट हॉल में एनएसएस द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बोले कुलपति, बिजनेस का मूल मंत्र है विश्वास। एक सफल उद्यमी बनने के लिए रिस्क उठाना और साहस रखना जरूरी : प्रो. जवाहर लाल। #टीएमबीयू न्यूज बुलेटिन के दूसरे अंक का हुआ लोकार्पण।

विश्व उद्यमिता दिवस पर सीनेट हॉल में एनएसएस द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बोले कुलपति,
बिजनेस का मूल मंत्र है विश्वास।

एक सफल उद्यमी बनने के लिए रिस्क उठाना और साहस रखना जरूरी : प्रो. जवाहर लाल।

#टीएमबीयू न्यूज बुलेटिन के दूसरे अंक का हुआ लोकार्पण।

भागलपुर। विश्व उद्यमिता दिवस के अवसर पर जागरूकता के तहत मंगलवार को तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय (टीएमबीयू) के सीनेट हॉल में राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के तत्वावधान में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन टीएमबीयू के कुलपति प्रो. जवाहरलाल ने दीप प्रज्वलित कर किया। कार्यक्रम की शुरुआत विश्वविद्यालय के कुलगीत से हुई। जबकि आगत अतिथियों का स्वागत एनएसएस की ओर से अंग वस्त्र, मोमेंटो और बुके भेंट कर किया गया ।साथ ही इस मौके पर सभी अतिथियों को पौधा भी भेंट किया गया। विश्व उद्यमिता दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुलपति प्रो. जवाहर लाल ने कहा कि जीवन में बड़े उद्यमी बनने के लिए संघर्ष की जरूरत होती है। एक सफल उद्यमी बनने के लिए सपने जरूर देखें। उद्यमिता में रिस्क लेना जरूरी है। जो लोग रिस्क नहीं उठाएंगे वह तब तक आगे नहीं बढ़ सकते हैं। कुलपति ने कहा कि रोजगार ढूंढने की जगह स्वयं को इतना मजबूत बना लें कि दूसरों को रोजगार दें। यानी रोजगार प्रोवाइडर बनें। उन्होंने कहा कि ईमानदारी, कठिन परिश्रम और संघर्ष के बूते एक सफल उद्यमी बना जा सकता है। कुलपति प्रोफेसर लाल ने कहा कि दृढ़ इच्छा शक्ति और साहस ही आपको नए मुकाम पर ले जाएगा। उन्होंने कहा कि भूमि, श्रम और पूंजी एक सफल उद्यमिता के लिए बहुत जरूरी है। जिनके पास यह सब है और वह साहसी नहीं है और साथ ही वह रिस्क नहीं उठाना चाहता है, कभी भी सफल उद्यमी नहीं बन सकता है। इसलिए एक सफल उद्यमी बनने के लिए साहस चाहिए। वीसी प्रो. लाल ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से उद्यमिता के विविध पहलुओं पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि जोसेफ एलोइस शुंपीटर को उद्यमिता का जनक कहा जाता है। कुलपति ने कहा कि ऐसी पढ़ाई करें जिससे खुद भी सशक्त बनने के साथ-साथ दूसरों को भी रोजगार दे सकें। एक नए आइडिया और विचार के साथ उद्यमी बनने का सपना देखें और उसे अपने जीवन में उतारें।
कुलपति प्रो. जवाहर लाल ने अपने संबोधन में कहा कि एक सफल उद्यमी बनने के लिए अपने विचारों को खुला रखें। उद्यमी में लचीलापन और अपने उत्पाद को जानना बेहद जरूरी है। समाज और सामुदायिक विकास के लिए रोजगार जरूरी है। उद्यमिता से जीवन के स्तर में भी वृद्धि होती है। कुलपति प्रो. लाल ने कहा कि विश्वास बिजनेस का मूल मंत्र है। विश्वास पर ही व्यापार की दुनिया टिकी हुई है। आत्मनिर्भर भारत की नींव रोजगारपरक शिक्षा से ही रखी जा सकती है। उन्होंने कहा कि तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय में भी उद्यमिता विकास को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे। राष्ट्रीय शिक्षा नीति – 2020 का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य रोजगारपरक शिक्षा देना है। राज्य सरकार के द्वारा यदि मेरे वित्तीय पावर बढ़ाया जाता है तो मैं तिलका मांझी भागलपुर विश्वविद्यालय को कॉरपोरेट सेक्टर में तब्दील कर दूंगा। विश्वविद्यालय के विकास के लिए वे कृतसंकल्पित और कटिबद्ध हैं। इसके लिए जो भी करना होगा वह सक्रियता और समर्पण के साथ करेंगे। देश और विदेशों के संस्थानों के साथ टीएमबीयू साझा करार करने की दिशा में भी अग्रसर है। उन्होंने कहा की यहां के छात्र कल के बड़े उद्योगपति हैं।
इस मौके पर स्थानीय उद्यमी दीपक सिंह ने कहा की एक अच्छा उद्यमी बनने के लिए संघर्ष जरूरी है। उन्होंने कहा की हार में ही जीत छुपा हुआ है। गिर कर फिर से उठने वाला ही जीवन में सफल होता है।
भागलपुर के चिकत्सक डा इम्तियाजुर रहमान ने कहा की एक सफल उद्यमी बनने के लिए जीवन में विजन का होना जरूरी है। उन्होंने उद्यमिता के उद्देश्यों और महत्वों पर भी प्रकाश डाला।
इस अवसर पर डीएसडब्ल्यू प्रो. योगेंद्र, प्रॉक्टर प्रो. एसडी झा, कॉलेज इंस्पेक्टर प्रो. संजय कुमार झा, स्वावलंबी भारत अभियान के ओमप्रकाश, एमबीए की डायरेक्टर डा निर्मला कुमारी, एनएसएस समन्वयक डा राहुल कुमार, जनसंपर्क पदाधिकारी डा दीपक कुमार दिनकर सहित एनएसएस के स्वयंसेवक और स्वयं मौजूद रहे।

अपने कार्यकाल का एक साल पूरा होने पर कुलपति ने जारी किया श्वेत पत्र।

तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जवाहर लाल ने अपने एक साल का कार्यकाल पूरा करने पर मंगलवार को सीनेट हॉल में श्वेत पत्र जारी किया। श्वेत पत्र में कुलपति की एक साल के कार्यकाल के दौरान की गई उपलब्धियों का लेखा-जोखा शामिल किया गया है। इस मौके पर उन्होंने कहा की वे अपने शेष कार्यकाल में टीएमबीयू को शिक्षण, रिसर्च, अनुसंधान, नवाचार सहित विश्वविद्यालय के आधारभूत संरचनाओं के विकास कार्यों को गति देंगे। विश्वविद्यालय की प्रशासनिक व्यवस्था को पारदर्शी और चाक-चौबंद बनाया जाएगा। उन्होंने कहा की विश्वविद्यालय के समग्र विकास में सबों का समर्पण और सहयोग अपेक्षित है। मिलजुल कर विश्वविद्यालय को आगे बढ़ाएं। टीएमबीयू के गौरवशाली अतीत और ऐतिहासिक पृष्ठभूमि को आगे भी बरकरार रखने में सभी लोग अपनी भूमिका का निर्वहन ईमानदारी और जवाबदेयता के साथ करें। इस दौरान उन्होंने पेंशन, कोर्ट केसों के मामलों के तत्परता के साथ निष्पादन को लेकर किए गए प्रयासों का भी जिक्र किया। इसके आलावे छात्र दरबार का आयोजन, दीक्षांत समारोह, नैक मूल्यांकन की दिशा में किए गए कार्य, कर्मियों को लेखा प्रबंधन की ट्रेनिंग, स्नातक स्तर पर सीबीसीएस को लागू करने, सेरीकल्चर, डिजास्टर मैनेजमेंट, फिजियोथैरेपी और योगा, हॉस्पिटल मैनेजमेंट कोर्स की पढ़ाई शुरू कराने की दिशा में प्रयास, पीजी फिजिक्स में रिसर्च इनोवेशन सेंटर खोलने का प्रस्ताव, रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेल का गठन, आईक्यूएसी सेल का पुनर्गठन, पीजीआरसी की बैठक, पैट परीक्षा का सफल आयोजन और रिकॉर्ड तौर समय में रिजल्ट प्रकाशन, बर्थडे प्लांट बैंक योजना का क्रियान्वयन, अब तक 21884 डिग्रियों पर हस्ताक्षर, 58 परीक्षाओं का आयोजन, प्लेसमेंट सेल व एल्यूमिनाई सेल का गठन, विभिन्न संस्थानों के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर, राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार, कॉन्फ्रेंस, वर्कशॉप, एफडीपी प्रोग्राम का आयोजन आदि की चर्चा अपनी उपलब्धि के रूप में की।
इस मौके पर कुलपति प्रो. जवाहर लाल सहित विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने टीएमबीयू की त्रैमासिक यूनिवर्सिटी न्यूज बुलेटिन के दूसरे अंक का लोकार्पण भी किया। न्यूज बुलेटिन के पहले अंक का लोकार्पण 47वें दीक्षांत समारोह के दौरान महामहिम कुलाधिपति राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने किया था। इस न्यूज बुलेटिन के प्रधान संपादक टीएमबीयू के पीआरओ डा दीपक कुमार दिनकर हैं। जबकि एनएसएस कोऑर्डिनेटर इसके एडिटर हैं।

Share Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close