Wednesday 22 May 2024 12:55 PM
Aman Patrika
बिहार/ब्रेकिंग न्यूज

कल 17 सितंबर को भगवान विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर एवं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर पूरे देश में प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की शुरुआत होगी। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओबीसी की 18 कामगार जातियों के उत्थान के लिए इस योजना को लॉन्च करेंगे।

कल 17 सितंबर को भगवान विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर एवं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर पूरे देश में प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की शुरुआत होगी। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओबीसी की 18 कामगार जातियों के उत्थान के लिए इस योजना को लॉन्च करेंगे।

बांका भाजपा

कल 17 सितंबर को भगवान विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर एवं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर पूरे देश में प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की शुरुआत होगी। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओबीसी की 18 कामगार जातियों के उत्थान के लिए इस योजना को लॉन्च करेंगे। हालांकि इस योजना का लाभ ओबीसी की 140 जातियों को मिलेगा। इस योजना के लिए केंद्र सरकार ने 13 हजार करोड़ के बजट का प्रावधान किया है। उक्त बातों की जानकारी भाजपा जिलाध्यक्ष श्री ब्रजेश कुमार मिश्रा जी, ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष रंजीत कुमार सिंह, और जिला प्रवक्ता नवनीत आनंद ने दी है।

इसके निमित्त 17 सितंबर को बांका जिले के बौसी नगर स्थित राजवीर इन में ओबीसी मोर्चा के बैनर तले प्रोजेक्टर स्क्रीन के जरिए सभी आम लोगों तक प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना की पूरी जानकारी पहुंचाई जाएगी। इसके लिए मोर्चा के सभी अधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को दायित्व सौंपा गया है। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में भाजपा बिहार के प्रदेश महामंत्री सह क्षेत्रीय प्रभारी श्री मिथिलेश तिवारी जी सहित क्षेत्रीय सह प्रभारी अनिल ठाकुर जी व मनीष पांडेय जी भी उपस्थित रहेंगे।

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना से लाखों लोग लाभान्वित करेंगे। विश्वकर्मा योजना के तहत ग्रामीण पारंपरिक रोजगार को बढ़ावा और मदद दी जाएगी। उसे नई तकनीक से जोड़ा जाएगा। इसके लिए सरकार कारपेंटर, नाव बनाने वाले, अस्त्र बनाने वाले, लोहार, ताला बनाने वाले, हथौड़ा और टूलकिट निर्माता, सुनार, कुम्हार, मूर्ति, मोची, राज मिस्त्री, डलिया, चटाई, झाड़ बनाने वाले, पारंपरिक गुड़िया और खिलौने बनाने वाले, नाई, मालाकार, धोबी, दर्जी एवं मछली का जाल बनाने वाले आदि परंपरागत पेशेवरों की आर्थिक रूप से सहायता करेगी। इससे ग्रामीण आर्थिक व्यवस्था को भी मदद मिलेगी।

गांव, कस्बे और छोटे शहरों में जो लोग कई पीढ़ियों से काम करते आए हैं और इनका ग्रामीण अर्थव्यवस्था में आज भी काफी महत्व है। ग्रामीण क्षेत्रों में पारंपरिक तरीके से जो काम करते आ रहे हैं, उनको इससे काफी फायदा होगा। प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना का मुख्य उद्देश्य कौशल को बढ़ावा देना और नई तकनीक का इस्तेमाल करना है। क्रेडिट सपोर्ट के तहत विश्वकर्मा समाज के लोगों को एक लाख रुपए तक का लोन तक का भी प्रावधान है जिसमें 2 लाख तक का लोन 5% वार्षिक ब्याज की दर से मिलेगा।

कल के कार्यक्रम को लेकर बांका भाजपा इकाई काफी उत्साहित हैं और विश्वकर्मा समाज के लोगों में भी काफी उत्साह देखा जा रहा है। कल 17 सितम्बर को सभी मंडलों में भी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का जन्मदिन मनाया जाएगा जिसके लिए भाजपा कार्यकर्त्ता जी जान से जुटे हुए हैं।

नवनीत आनंद
जिला प्रवक्ता भाजपा बांका

Share Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close