Friday 14 June 2024 6:06 AM
Aman Patrika
बिहार/ब्रेकिंग न्यूज

गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस ने महिला को छत से फेंका नीचे, मौके से फरार हुई पुलिस, महिला की स्थिति गंभीर

गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस ने महिला को छत से फेंका नीचे, मौके से फरार हुई पुलिस, महिला की स्थिति गंभीर

भागलपुर बिहार
शैलेन्द्र कुमार गुप्ता
गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस ने महिला को छत से फेंका नीचे, मौके से फरार हुई पुलिस, महिला की स्थिति गंभीर
गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस ने महिला को छत से फेंका नीचे, मौके से फरार हुई पुलिस, महिला की स्थिति गंभीर, चल रहा मायागंज अस्पताल में इलाज
भागलपुर, पुलिसिया गुंडागर्दी नीतीश सरकार में चरम सीमा पर है, कुछ दिन पहले भागलपुर के कहलगांव में एक महिला के बाल को पकड़कर बेरहमी से पीटने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ फिर बरारी थाना क्षेत्र अंतर्गत सुर्खीकल में एक चाय दुकानदार और ग्राहक को गाली गलौज करते हुए बुरी तरह पिटाई करने का मामला सामने आया उसके बाद सुल्तानगंज स्टेशन पर आरपीएफ जवान के द्वारा एक कांवरिया को बेरहमी से पीटते हुए भी वीडियो वायरल हुआ भागलपुर के बाद अब बांका पुलिस की गुंडागर्दी भी पीछे नहीं है ,आज एक महिला को बांका पुलिस ने छत पर से नीचे फेंक दिया जिससे वह बुरी तरह घायल हो गई है , जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती एक महिला मरीज के परिजन ने बांका पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं, उन्होंने कहा है कि गिरफ्तार करने पहुंची बांका पुलिस ने महिला को छत से ही नीचे फेंक दिया जिसके बाद महिला बुरी तरह घायल है। उनके शरीर में कई जगह चोटे आई हैं और चेहरा बहुत ज्यादा घायल हो गया है ।
दरअसल मामला प्रेम प्रसंग का था, जिसको लेकर लड़की पक्ष के तरफ से थाने में तहरीर दी गई थी। जिसके आधार पर पुलिस ने बिना गिरफ्तारी वारंट के अहले सुबह गिरफ्तार करने के लिए दूसरे पक्ष के घर पहुंच गई। घायल के परिजनों का आरोप है कि बिना गिरफ्तारी वारंट के गिरफ्तार करने पहुंची धोरैया पुलिस ने परिजनों के साथ मारपीट किया और छत से ही एक महिला को नीचे फेंक दिया जिससे महिला बुरी तरह घायल हो गई। इस घायल महिला का इलाज भागलपुर के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल मायागंज में चल रहा है। गौरतलब हो की घायल को पहले स्थानीय रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर डॉक्टरों ने बेहतर उपचार के लिए भागलपुर के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया है। घायल के परिजनों ने पुलिस पर यह भी आरोप लगाया है कि दूसरे पक्ष के लोगों से कुछ रुपए लेकर उनके ऊपर फर्जी मुकदमा कर उनको फसाया जा रहा है। दूसरे पक्ष के तरफ से थाने में दी गई तहरीर के मुताबिक बताया जा रहा है कि उनके घर की एक लड़की का अश्लील फोटो वायरल किया है। जबकि लड़के का परिजनों का कहना है कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया है हालांकि यह जांच का विषय है।
बहरहाल लगातार नीतीश सरकार की पुलिस वर्दी का धोस दिखाकर गुंडागर्दी करती नजर आ रही है। भागलपुर के बरारी में भी पुलिस ने एक दुकानदार को बेरहमी तरीके से पीट दिया था। अब बांका पुलिस ने एक महिला को छत पर से ही फेंक दिया गनीमत रही की कोई हताहत नहीं हुई हालांकि घटना के बाद मौके से पुलिस फरार हो गई।

Share Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close