Sunday 26 May 2024 12:02 AM
Aman Patrika
बिहार/ब्रेकिंग न्यूज

भारतीय विश्वकर्मा महासंघ की एक दिवसीय जिला सम्मेलन संपन्न

भारतीय विश्वकर्मा महासंघ की एक दिवसीय जिला सम्मेलन संपन्न

भारतीय विश्वकर्मा महासंघ की एक दिवसीय जिला सम्मेलन संपन्न

विश्वकर्मा समाज के बुनियादी मुद्दों का समाधान करने की आवश्यकता : मुकुल आनंद

दरभंगा : जिला स्थित प्रेक्षा गृह सभागार, लहेरियासराय में भारतीय विश्वकर्मा महासंघ की एक दिवसीय जिला सम्मेलन संपन्न हुई। कार्यक्रम की अध्यक्षता महासंघ के जिला अध्यक्ष रामशंकर शर्मा तथा संचालन शंभू शर्मा ने किया। कार्यक्रम का शुभारंभ विश्वकर्मा समाज के इष्टदेव भगवान विश्वकर्मा के तैल्य चित्र पर पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्वलन कर किया गया।आगत सभी अतिथियों का पाग, माला एवम अंगवस्त्रम से सम्मानित किया गया।
भारतीय विश्वकर्मा महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकुल आनंद ने कहा कि आज विश्वकर्मा समाज के बुनियादी मुद्दों का समाधान करने की आवश्यकता है। विश्वकर्मा समाज के नौजवानों को अब नौकरी और रोजगार चाहिए। विश्वकर्मा समाज के लोग डॉक्टर, इंजीनियर और आईएएस बनना चाहते है। विश्वकर्मा समाज के लोग जब तक एमपी, एमएलए नहीं बनेंगे तब तक विश्वकर्मा समाज की आवाज विधानसभा एवम संसद में नहीं उठेगी। सरकार में भागीदारी से ही समाज का विकास का रास्ता खुलता है। श्री आनंद ने कहा हमने हमेशा आजीवन विश्वकर्मा समाज के सम्मान की लड़ाई लड़ी है। विश्वकर्मा समाज की सामाजिक और राजनीतिक ताकत बनाने का जो प्रयास कर रहे है उसी का नतीजा है कि लोग विश्वकर्मा की चर्चा दिल्ली मे कर रहे हैं और अपने पार्टियों में तवज्जो एवं सम्मान देने लगे। इससे पहले विश्वकर्मा समाज को सम्मान क्यों नहीं मिलता था। कई सामाजिक संगठन विश्वकर्मा समाज की हक अधिकार दिलाने के नाम पर समाज से मोटी चंदा,कामगार कार्ड आदि के जरिए समाज का शोषण किया और समाज को दूसरे का दरी बिछाने के लिए मजबूर करते रहा।वादा करता हु आप लोग सहयोग करिये आपकी मजबूत आवाज को उठाते रहेंगे। युवा प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण शर्मा ने कहा भगवान विश्वकर्मा के सृष्टि के सृजन में योगदान और उनके इतिहास को घर घर बताने की आवश्यकता है। अध्यक्षीय संबोधन में दरभंगा जिला अध्यक्ष राम शंकर शर्मा ने कहा विश्वकर्मा समाज आजादी से अब तक सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक, सांस्कृतिक एवं राजनीतिक हर क्षेत्र में उपेक्षित है। एक संगठित समाज ही परिवर्तन और विकास का मार्ग प्रशस्त कर सकता है। मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष रामकुमार शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष मनमोहन शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष सुधीर शर्मा, संयुक्त सचिव विद्या भूषण शर्मा, सुरेंद्र ठाकुर, प्रमोद शर्मा, बाबू प्रसाद शर्मा, पंडित दिनेश शर्मा, संगठन सचिव भिखारी शर्मा, प्रदेश संगठन सचिव राजकिशोर शर्मा, जयंत शर्मा, सुजाता शर्मा, मीना शर्मा, रामस्वरूप शर्मा, ब्रह्मदेव शर्मा, योगेंद्र शर्मा आदि ने अपने अपने विचार व्यक्त किए। अंत में रामकुमार शर्मा जी धन्यवाद ज्ञापित किया। सम्मेलन में हजारों लोग मौजूद रहे।

Share Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close