Wednesday 22 May 2024 2:00 PM
Aman Patrika
बिहार/ब्रेकिंग न्यूज

भागलपुर 24 सितंबर। बिहार प्रांतीय मारवाड़ी सम्मेलन के अध्यक्ष युगल किशोर अग्रवाल ने कहा कि सामाजिक और राष्ट्र की तरक्की के लिए संगठन को मजबूत होना जरूरी है।

भागलपुर 24 सितंबर। बिहार प्रांतीय मारवाड़ी सम्मेलन के अध्यक्ष युगल किशोर अग्रवाल ने कहा कि सामाजिक और राष्ट्र की तरक्की के लिए संगठन को मजबूत होना जरूरी है।

भागलपुर बिहार
शैलेन्द्र कुमार गुप्ता
भागलपुर 24 सितंबर। बिहार प्रांतीय मारवाड़ी सम्मेलन के अध्यक्ष युगल किशोर अग्रवाल ने कहा कि सामाजिक और राष्ट्र की तरक्की के लिए संगठन को मजबूत होना जरूरी है। सामाजिक कुरीतियां अभिशाप है। इसको मिटाने के लिए जागरूकता जरूरी है। इसके वास्ते बिहार का दौरा कर रहा हूँ। और सभी जिलों में जाकर सम्मेलन की शाखाओं के सदस्यों के साथ बैठकें कर इस ओर ध्यान दिला रहा हूँ।
बिहार दौरे के क्रम में वे रविवार को भागलपुर पहुंचे। उनके साथ प्रांतीय उपाध्यक्ष अमर कुमार दहलान भी थे। स्वागत क्षेत्रीय उपाध्यक्ष गिरधारी केजरीवाल ने किया। और धन्यवाद प्रो. विहारी लाल चौधरी ने की। प्रांतीय अध्यक्ष अग्रवाल ने श्रीगौशाला में सम्मेलन के क्षेत्रीय व प्रमंडलीय अधिकारियों व मारवाड़ी समाज के प्रबुद्ध लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यह फक्र की बात है 84 साल पहले यानि 1940 में सम्मेलन की बुनियाद रखी गई थी। आज अध्यक्ष बन अंग की धरती पर आकर संबोधित करने का मुझे सौभाग्य मिला है। उन्होंने कहाकि मारवाड़ी समाज के उदारमना लोगों व हमारे पूर्वजों ने स्कूल, धर्मशाला, बाबड़ी, कुएं बनवाएं है। जो बिना देखरेख की वजह से जीर्णशीर्ण हो गए है। उनकी मरम्मती और देखरेख करने की जिम्मेवारी सम्मेलन लेने की चेष्टा में है।
उन्होंने अपील की कि समाज के लोग प्रिविडिंग शूट,
डिस्टिनेशन विवाह और मृत्यु भोज पर रोक लगाए। यह धन का दुरुपयोग है। समाज के लोगों को राजनीति में दिलचस्पी लेनी चाहिए। एकजुटता दिखाने के लिए संगठन से जुड़ना जरूरी है। इसके लिए संगठन का सदस्य बनना जरूरी है। बिहार में हमारी लाखों की तायदाद होते हुए भी सम्मेलन के केवल आठ हजार ही सदस्य है। संगठन मजबूत होगा, तभी समाज के लोग मजबूत होंगे। भागलपुर मारवाड़ियों का गढ़ है।
उन्होंने बताया कि लक्ष्मी और सरस्वती का बरदान मारवाड़ी समाज में है। इस दफा 78 बच्चे यूपीएससी की परीक्षा में सफल हुए है। यह गर्व की बात है। शिक्षा के क्षेत्र में समाज के गरीब बच्चों को पढ़ने में सम्मेलन मदद करता है। रोगियों के लिए प्रांत के बड़े अस्पतालों से टायअप है। जहां रियायत मिलती है। हमारी संस्कृति को बचाने के लिए अपनी भाषा और पहनावा को अपनाना चाहिए। प्रो.पवन कुमार पोद्दार, लक्ष्मी नारायण डोकानिया ने भी अपने विचार रखे। संचालन सुनील जैन ने किया।
सभा में प्रादेशिक कोषाध्यक्ष मनीष कुमार सर्राफ ,संयुक्त महामंत्री अभिषेक जैन,क्षेत्रीय उपाध्यक्ष गिरधारी केजरीवाल,क्षेत्रीय मंत्री मनोज संथालिया,प्रमंडल उपाध्यक्ष अशोक खेमका,प्रमंडल मंत्री विनय डोकानिया,प्रमंडल सदस्यता प्रभारी अतुल भिवानीवाला, कार्यसमिति सदस्य अशोक भिवानीवाला,गिरधारी लाल जोशी, सम्मेलन न्यासी डा.पवन कुमार पोद्दार, लक्ष्मी नारायण डोकानिया आशीष मवांडिया,भवेश पोद्दार, रोहित बाजोरिया,सुनील जैन,बिहारी लाल चौधरी,पदम कुमार जैन,राजेश कुमार बांका,संदीप कुमार बंका ,संजीव कुमार शर्मा लालू, बालकिशन मोयल, श्रवण कुमार शाह, कृष्ण कुमार तोदी ,गोपाल कृष्ण मिश्रा, राजकुमार केजरीवाल,सत्यनारायण पोद्दार,राजेश कुमार जैन,प्रदीप जालान ,अनिल कुमार सिंघानिया, रंजीत झुनझुनवाला, अनिल गोयंका, आशीष बाजोरिया, सरवन कुमार शाह, प्रदीप कुमार झुनझुनवाला,संदीप बंका ,नवनीत सराफ ,ऋषभ कुमार शाह, निमित्त गोयनका ,सुमित तोदी, अशोक कुमार बंसल,उज्जैन कुमार मालू ,सुनील कुमार झुनझुनवाला, नीरज भिवानीवाला,मनीष छापड़िया, हरिप्रसाद शर्मा,अभिषेक डोकानिया, सज्जन महेशका,रवि टिंबरेवाल, प्रभात सिंह जैन,सज्जन पचेरीवाला ओर मनोज कुमार जैन आदि मौजूद थे।

Share Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close