Thursday 23 May 2024 7:40 AM
Aman Patrika
बिहार/ब्रेकिंग न्यूज

*प्राथमिक विद्यालय झिट्टी का जर्ज़र भवन भरभरा के गिरा*

*प्राथमिक विद्यालय झिट्टी का जर्ज़र भवन भरभरा के गिरा*

*प्राथमिक विद्यालय झिट्टी का जर्ज़र भवन भरभरा के गिरा*

संग्रामपुर (मुंगेर) प्रखंड क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय झिट्टी का पुराना भवन जो कि कई सालों से जर्ज़र हो चुका था। मंगलवार की रात्री करीब 2 बजे भारी बारिश के कारण भरभरा कर ज़मीन मे समा गया। बताते चलें कि भवन काफी पुराना था और सालों से जर्जर स्थिति में था। बुधवार की सुबह जब ग्रामीणों में स्कूल का दृश्य देखा। तो लोग आक्रोषित हो गए। तरह-तरह की बातें करने लगे। वहीं मौजूद ग्रामीणों का कहना है कि यह भवन बहुत पहले बना था। फिर नए भवन बन जाने के कारण पढ़ाई लिखाई उसमें चालू कर दिया गया लेकिन यह भवन को ऐसे ही जर्जर अवस्था में छोड़ दिया गया। कई बार ग्रामीणों ने प्रभारी शिक्षक चंदन कुमार सिंह से आगरा किया था कि अपने विभागीय पदाधिकारी से बोलकर इस भवन को बर्बाद दिया जाए अन्यथा इस हवन को गिरवाने का काम किया जाए। लोगों का कहना था कि अगर स्कूल के समय में यह भवन गिर जाता तो शायद से बहुत बड़ा ध्यान रखना हो सकता था। लेकिन ग्रामीणों की बात को शिक्षक ने हमेंशा अनदेखा किया। नतीजा यह हुआ की आज यह भवन गिर गया। वही इस संदर्भ में पारिवारिक शिक्षक चंदन कुमार सिंह ने बताया कि मैंने प्रखंड स्तर पर कई बार लिखित आवेदन देकर इसके बारे में विभाग को आगाह किया था। लेकिन बी ओ साहब कहते हैं कि किसी तरह मैनेज करके चलिए। अगर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ध्यान दिए होते तो शायद से यह नहीं होता। प्रभारी शिक्षक बताते हैं कि अगर यह भवन विद्यालय कल में गिर जाता तो शायद से बहुत बड़ी दुर्घटना हो जाती। उन्होंने कहा कि यहां पांचवी तक का क्लास है लेकिन हमें एक रूम में ही एक से पांचवी तक के क्लास के विद्यार्थियों को बैठना पड़ता है। बाकी सभी भवन जर्जर हो चुका है। अभी वर्तमान में जिस भवन में पढ़ाई चल रही है वह भी काफी जर्जर हो चुका है लगातार 10 दिन अगर ऐसी बारिश होती रही तो यह भवन भी गिर जाएगा। श्री सिंह ने बताया कि हमारे विद्यालय में 60 विद्यार्थियों का नामांकन है। एक रूम में पढ़ने में बहुत दिक्कत होती है। साथ ही रसोईया को खाना बनाने में भी बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। महिला शिक्षिका शशिवाला सिंह ने बताएं कि एक दिन पढ़ने के क्रम में ऊपर वाले रूम मे छत से टूटकर मालवा गिर गया। गनीमत रहे कि किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ। जल्द से जल्द अगर इसे रिपेयरिंग नहीं किया गया तो यहां बच्चे आने में भी डरते हैं और हमें भी जान का खतरा लगा रहता है।

Share Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close